रणजी के खिलाड़ियों को नहीं मिला समय से भुगतान, मनोज तिवारी ने किया खुलासा !

By | 19/06/2020

कोरोना काल में हर वर्ग में आर्थिक तंगी देखने को मिल रही है। कहीं स्टाफ कम किया जा रहा है तो कहीं सैलरी लेट हो रही है। इसी वजह से क्रिकेट की दुनिया में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। ऐसा ही एक मामला भारत के घरेलू क्रिकेट में भी देखने को मिल रहा है। दरअसल बंगाल क्रिकेट संघ (CAB) ने अपने खिलाड़ियों को यह आश्वासन दिया था कि रणजी ट्रॉफी उपविजेता के तौर पर उन्हें एक सप्ताह के अंदर उन्हें बीसीसीआई (BCCI) की तरफ से एक करोड़ की इनामी राशि मिल जाएगी। लेकिन सूत्रों का मानें तो बंगाल के पूर्व कप्तान और भारतीय बल्लेबाज मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) ने इसका खुलासा किया है।

रिपोर्ट्स की मानें तो मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) ने गुरुवार को टीम के खिलाड़ियों के साथ हुई बैठक में इस बारे में जानकारी मांगी। इस बैठक में टीम के कोच अरुण लाल (Arun Lal) और बाकी के सपोर्ट स्टाफ भी थे। उन्होंने क्रिकेट संचालन मैनेजर जॉयदीप मुखर्जी (Joydeep Mukherjee) के सामने इसको लेकर ये बात रखी है। वहीं, साथ ही यह भी जानकारी मिली है कि इस सीजन की रणजी ट्रॉफी विजेता सौराष्ट्र को बुधवार को उसकी इनामी राशि दो करोड़ रुपये 17 जून को मिल चुकी है।

सीएबी अध्यक्ष ने दिया आश्वासन

इस पूरे मामले में जब सीएबी के अध्यक्ष अभिषेक डालमिया (Abhishek Dalmia) से मीडिया ने जब बात की तो उन्होंने कहा कि, “संघ इस मामले में काम कर रहा है और यह प्रक्रिया पूरी होने के कगार पर है। अधिकारी इसके लिए अतिरिक्त काम कर रहे हैं। कुछ जानकारी और आंतरिक ऑडिट भेजी जानी है।उम्मीद की जा सकती है कि एक या दो दिन में यह जानकारी बीसीसीआई के पास भेज दी जाएगी। महामारी के चलते, खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ और मैच अधिकारियों के बाकी भुगतान हमारी प्राथमिकता है, क्योंकि यही उनकी मुख्य आय है। मैं इसे लेकर आश्वस्त हूं कि इस मुद्दे को भी जल्दी से जल्दी सुलझा लिया जाएगा।”

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *