आईपीएल स्पॉन्सर ड्रीम-11 ने किया स्पष्ट, यह पूरी तरह से एक ‘भारतीय ब्रांड’ है

By | 22/08/2020

लद्दाख की गालवान घाटी में चीन से हुए संघर्ष के बाद देश में चीनी उत्पादों का बहिष्कार जारी ही था कि इतने में केंद्र सरकार ने भी कई चाइनीज ऐप्स पर बैन लगा दिया था। नफरत कि यह लड़ाई यही खत्म नहीं हुई और चाइनीज मोबाइल कंपनी वीवो ने आईपीएल का टाइटल स्पॉन्सर बनने से मना कर दिया।

वीवो के मना करने के बाद ड्रीम-11 अब आईपीएल के नए टाइटल स्पॉन्सर के रूप में सामने आया है। ड्रीम-11 ने यह स्पॉनसरशिप पाने के लिए 222 करोड़ की बोली लगाई थी, जो कि अन्य कंपनियों के मुकाबले सबसे ज्यादा थी।

ड्रीम-11 का टाइटल स्पॉनसर बनने के बाद, हाल ही में ड्रीम-11 कंपनी को आलोचनाओं का सामना भी करना पड़ा क्योंकि कई व्यापार संगठनों का मानना है कि उनके इस व्यापार में कई चाइनीज कंपनियों का भी पैसा लगा है।

सोशल मीडिया पर खड़ी- खोटी सुनने के बाद, ड्रीम-11 ने स्पष्ट किया है कंपनी की स्थापना एक भारतीय द्वारा की गई है और यह संपूर्ण तरीके से एक भारतीय ब्रांड है।

क्रिकेटनेक्सट के हवाले से एक प्रवक्त ने बताया, “ड्रीम-11 पूरी तरह से भारत के स्वामित्व में है, जिसमें 400 संस्थापक, कई भारतीय कर्मचारी और कई कलारी कैपिटल जैसे कई निवेशक शामिल है। पांच संस्थापकों में से एक चीनी है लेकिन उसकी हिस्सेदारी इसमें काफी कम है।”

प्रवक्ता ने आगे कहा, “भारतीय स्पोर्ट्स के लाइव एक्शन को कोविड-19 महामारी में बहुत याद किया गया है, अब आईपीएल भारतीय क्रिकेट के मुख्यधारा की वापसी को चिन्हित करेंगा, जिससे अब यह आईपीएल सीजन सबसे अधिक ज्यादा देखने वाला खेल आयोजन होगा। आईपीएल इतिहास में आईपीएल स्पॉन्सर बनने वाला ड्रीम इलेवन एकमात्र स्पोर्ट्स ब्रांड हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “यह खेल प्रशंसकों के लिए लिए एक ट्रीट है, जहां अब उनको आईपीएल के साथ एक देसी स्पोर्ट्स ब्रांड देखने को मिलेगा, इससे अब आईपीएल को और अधिक लोग देखेंगे।”

प्रवक्ता ने आगे कहा, “लॉकडाउन के दौरान, मुख्याधारा क्रिकेट की अनुपस्थिती में, इंडिया फैंटसी स्पोर्ट्स फैंस ने विंसी प्रीमियर और ईसीएस जैसी लीग पर भी पैसा लगाया है। जिससे साफ दिखता है कि लोग मैनस्ट्रीम स्पोर्ट्स को लाइव एक्शन में देखना चाहते है और इस साल ड्रीम-11आईपीएल खेल की खपत के सभी रिकॉर्ड्स तोड़ सकता है।

 

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *