IPL में BCCI का ‘मिशन एन्टी डोपिंग’, 50 दिग्गज क्रिकेटर्स के लिए जाएंगे सैम्पल…

By | 25/08/2020

जल्द ही दुबई में होने वाले आईपीएल के लिए एक नई प्लानिंग तैयार की गई है।जिसे नाडा और बीसीसीआई ने साथ मिलकर तैयार किया है। इसके तहत टॉप 50 क्रिकेटरों के डोप सैंपल नाडा की ओर से लिए जाएंगे और उन सभी की टेस्टिंग दोहा लैब में करवाई जाएगी। इसके लिए नाडा की तीन टीमों को सैंपल लेने के लिए दुबई भेजा जाएगा। इसके साथ ही नाडा पूरे आईपीएल के दौरान पांच डोप कंट्रोल स्टेशनों को स्थापित करेगी। जो अबू धाबी, शारजाह और दुबई में स्थापित किए जाएंगे। इन्हीं तीनों सेंटरों पर इन कंपटीशन सैंपलिंग होगी, जबकि दो कंट्रोल स्टेशन दुबई स्थित आईसीसी क्रिकेट अकादमी और एक अन्य ट्रेनिंग स्थल पर स्थापित किया जाएगा। यहां आउट ऑफ कंपटीशन सैंपलिंग होगी।

वहीं ये भी तय किया गया है कि इन मैचों के दौरान बीसीसीआई ही सभी के सैंपलिंग, रहने और स्थानीय ट्रेवल का खर्च उठाएगा। साथ ये भी बताया गया है कि आईपीएल के दौरान विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा समेत बड़े क्रिकेटरों के अलावा आईसीसी के रजिस्टर्ड टेस्टिंग पूल में शामिल क्रिकेटरों की सैंपलिंग की जाएगी।

नाडा के महानिदेशक नवीन अग्रवाल की माने तो सितंबर के पहले हफ्ते में पहली डीसीओ टीम को यूएई भेजा जाएगा और उनका साथ इस पूरे अभियान में यूएई एंटी डोपिंग एजेंसी भी देने वाली है। डीसीओ की टीम में नाडा ऑफिशियल के अलावा दो सरकारी अस्पतालों के लीड डीसीओ और दो यूएई एंटी डोपिंग से मुहैया कराए गए चैपरॉन होंगे।

उन्होंने बताया कि वहां से जाने वाली सभी टीमों को इन सारी प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद ही एडमिनिस्ट्रेटिव बायोसिक्योर बबल में प्रवेश कराया जाएगा। इसके साथ ही टीम के सभी सदस्यों को सात दिनों के एकांतवास के अलावा एक, तीन और छह दिनों में कराए जाने वाले कोविड-19 टेस्टिंग से गुजरना होगा। और जब सभी इन सदस्यों की सारी कोविड टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही इन्हें बायो बबल में जाने की अनुमति दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *