क्या धोनी को होना चाहिए बीसीसीआई के ट्रेनिंग कैंप हिस्सा? एमएसके प्रसाद ने दी अपनी राय

By | 20/06/2020

मौजूदा समय में सभी के दिमाग में सिर्फ यह सवाल चल रहा है कि इस वर्ष टी20 विश्व कप होगा या नहीं। और अगर होता तो क्या महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) टूर्नामेंट में खेलते नजर आएंगे या नहीं। ख़ैर बीसीसीआई बहुत ही जल्द अपने खिलाड़ियों के लिए एक विशेष ट्रेनिंग कैंप का आयोजन करने का रहा हैं और क्रिकेट के गलियारों में इस बात की चर्चा काफी तेज हो गयी है कि क्या एमएस धोनी इस शिविर में नजर आएंगे या नहीं?

टीम इंडिया (Team India) के पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने पीटीआई से बात करते हुए धोनी के ट्रेनिंग सत्र में भाग लेने को लेकर अपना एक बयान दिया। प्रसाद ने कहा, ”मुझे नहीं पता कि टी-20 विश्व कप हो रहा है या नहीं। अगर यह हो रहा है और आप शिविर को टूर्नामेंट पूर्व तैयारी के तौर पर देखेंगे ऐसे में धोनी को निश्चित रूप से होना चाहिए। अगर यह द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए है तो आपके पास पहले से ही केएल राहुल (KL Rahul), ऋषभ पंत (Rishabh Pant)और संजू सैमसन  (Sanju Samson) हैं।”

एमएसके प्रसाद ने आगे यह भी कहा कि यदि धोनी के शिविर का हिस्सा होते है तो अन्य खिलाड़ियों के लिए काफी फायदेमंद रहेगा। प्रसाद के अनुसार, ”अगर मैं राष्ट्रीय चयनकर्ता होता, तो एमएस धोनी मेरी टीम में होते लेकिन बड़ा सवाल यह है कि वह खेलना चाहते हैं या नहीं। आखिर में यह मायने रखता है कि धोनी क्या चाहते है।”

आप सभी को याद दिला दे, कि पिछले साल खेले गये आईसीसी एकदिवसीय विश्व कप के सेमीफाइनल के बाद से धोनी ने क्रिकेट से दुरी बना ली थी और उनके स्थान पर युवा ऋषभ पन्त को मौका दिया गया। हालांकि पन्त धोनी की जगह भरने में एकदम नाकाम रहे है और जनवरी में चोटिल होने के बाद उनको भी टीम की अंतिम एकादश से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

यह भी पढ़े : श्रीलंका क्रिकेट ने की ICC चेयरमैन पद के लिए भारत को समर्थन देने की घोषणा

मौजूदा समय में केएल राहुल को सीमित ओवर प्रारूप में बतौर विकेटकीपर देखा जता है और टेस्ट में ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) पर टीम मैनेजमेंट को भरोसा है। बीसीसीआई का यह ट्रेनिंग कैम्प अगले महीने से छह सप्ताह के लिए शुरू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *