क्रिकेट में नहीं चलता वंशवाद, खुद की प्रतिभा रखती है मायने : आकाश चोपड़ा

By | 28/06/2020

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद वंशवाद (Nepotism) के विरोध में हर तरफ से आवाज उठने लगी है। लगभग हर क्षेत्र की बड़ी हस्तियों ने इस पर अपनी बात रखी है। क्रिकेट में इस वंशवाद का चलन है या नहीं, इसके बारे में आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra)  ने एक वीडियो के जरिए अपनी बात रखी है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) के बेटे रोहन गावस्कर (Rohan Gavaskar)  और सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को लेकर वंशवाद (Nepotism) के विरोध में अपनी सफाई पेश की है। इन दोनों का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि “क्रिकेट में वंशवाद नहीं चलता है। अपने आप को साबित करने के लिए आपको अपनी पूरी क्षमता के साथ सबसे बेहतर प्रदर्शन करना होता है।”

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए आकाश चोपड़ा कहते हैं कि “अगर नेपोटिज्म (Nepotism) क्रिकेट में होता तो एक महान खिलाड़ी का बेटा ही आज इसे खेल रहा होता। रोहन गावस्कर के साथ ऐसा नहीं हुआ और उनको बहुत ज्यादा खेलने के लिए नहीं मिला। हालांकि उन्होंने भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई लेकिन वह सिर्फ इसलिए कि उन्होंने बंगाल घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया था।”

यह भी पढ़ें: IPL 2020 Update: ऑफिसियल ब्रॉडकास्टर स्टार इंडिया ने BCCI और ICC से मांगा स्पष्टीकरण

रोहन गावस्कर के क्रिकेट करियर की बात की जाए तो उन्होंने 2004 से अब कुल 11 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें वह मात्र 151 रन बना पाए हैं। उनको 2 आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलने का भी मौका मिला था लेकिन वहां भी उनका प्रदर्शन बहुत खास नहीं रहा था।

यूट्यूब वीडियो में आकाश चोपड़ा ने यह भी कहा कि “अगर सुनील गावस्कर चाहते तो रोहन को मुंबई से भी खिला सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। वहीं दूसरी तरफ अर्जुन के बारे में उनका मानना है कि सचिन तेंदुलकर का बेटा होने की वजह से उन्हें भी कुछ हाथों हाथ नहीं मिल गया है। उन्होंने अभी तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम नहीं रखा है और आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट भी उन्हें अभी तक नहीं मिला है।” इस तरह क्रिकेट में नेपोटिज्म (Nepotism) नहीं चलता यह बात आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने साफ की है।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *