कोरोना संकट में कौन बनेगा क्रिकेटर्स की प्रेरणा…जानिए सचिन ने किसका नाम लिया।

By | 27/08/2020
कोरोना संकट के बीच दुनिया भर के खिलाड़ी और एथलीट खेलों के भविष्य को लेकर फिक्रमंद हैं। हालांकि कुछ देशों में खेलों की शुरुआत हो गई है और ये धीरे-धीरे रफ्तार भी पकड़ रहा है। वहीं इस पूरे माहौल के बीच आज क्रिकेट के पितामह कहे जाने वाले सर डॉन ब्रैडमैन को उनकी 112वीं सालगिरह पर श्रद्धांजलि दी गई। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने सर ब्रैडमैन को श्रद्धांजलि देते हुए क्रिकेटर्स और एथलीट्स को उनसे प्रेरणा लेने को कहा है। दरअसल ब्रैडमैन 1939 से 1945 के बीच चले दूसरे विश्व युद्ध की वजह से कई वर्षों तक क्रिकेट से दूर रहे थे। लेकिन खास बात ये कि इस लंबे गैप का क्रिकेट में उनके प्रदर्शन पर कोई फर्क नहीं पड़ा। सर ब्रैडमैन ने अपने करियर में 52 मैचों में 99 . 94 की औसत से रन बनाये थे।सचिन तेंदुलकर ने ब्रैडमैन की 112वीं सालगिरह पर उन्हें याद किया और ट्विटर के जरिए श्रद्धांजलि देते हुए लिखा कि- सर डॉन ब्रैडमैन दूसरे विश्व युद्ध की वजह से कई साल क्रिकेट से दूर रहे लेकिन उनका बल्लेबाजी औसत फिर भी सर्वोच्च रहा। लंबे ब्रेक और अनिश्चितता की वजह से खिलाड़ी परेशान है और ऐसे हालात में ब्रैडमैन उनके लिये प्रेरणा बन सकते हैं। जन्मदिन मुबारक हो सर डॉन।

https://twitter.com/sachin_rt/status/1298874583462719493?s=20

दरअसल सर डॉन ब्रैडमैन की बल्लेबाजी की पूरी दुनिया फैन थी लेकिन खास बात ये है कि वो खुद सचिन तेंदुलकर के बहुत बड़े फैन थे। ब्रैडमैन ने एक बार कहा था कि उन्हें सचिन में अपनी झलक देखने को मिलती है। दरअसल मास्टर ब्लास्ट को 90 के दशक में बैटिंग करते हुए देखकर सर ब्रैडमैन ने कहा था कि सचिन की बैटिंग देख मुझे अपने दिनों की याद आती है। यहां तक कि ब्रैडमैन ने सचिन को अपना क्लोन बता दिया था।

डॉन ब्रैडमैन का 112 साल पहले 27 अगस्त 1908 को न्यू साउथ वेल्स में हुआ था। उन्होंने 52 टेस्ट मैचों में 6996 रन बनाए और अगर वो अपनी करियर की आखिरी पारी में शून्य पर आउट होने के बजाय 4 रन भी बना लेते तो उनका औसत पूरा 100 रह जाता। किसी एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी ब्रैडमैन के नाम पर ही है। उन्होंने 1930 में इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की सीरीज में कुल 974 रन बनाये थे। इस रिकॉर्ड को अब तक कोई बल्लेबाज नहीं तोड़ पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *