सुब्रमण्यम बद्रीनाथ ने बताया किन कारणों से टीम इंडिया में जगह नहीं बना पाये

By | 19/07/2020

साल 2008 में अपने क्रिकेट करियर का आगाज करने वाले भारतीय बल्लेबाज सुब्रमण्यम बद्रीनाथ (Subramaniam Badrinath) ने हाल ही में खुलासा किया है कि काबिलियत होने के बावजूद भी वह टीम इंडिया में अपना स्थान बनाने में सफल क्यों नहीं हो पाए।

उन्होंने कहा कि टीम में जगह बनाने के लिए उन्होंने सबकुछ किया लेकिन सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) और युवराज सिंह (Yuvraj Singh) जैसे बेहतरीन बल्लेबाज होने की वजह से उनको मौका नहीं मिल पाया।

हिन्दुस्तान टाइम्स से बात करते हुए बद्रीनाथ ने बताया कि, “मैं जो भी कर सकता था वो सबकुछ किया। बल्लेबाजी क्रम पूरी तरह से कसा हुआ था सचिन, राहुल, लक्ष्मण, सहवाग, गंभीर और युवराज। एक चीज जो मैंने किया वो थोड़ा बहुत गेंदबाजी पर ध्यान लगाना था। मैं टीम में बतौर ऑलराउंडर जगह बनाने क्योंकि काफी अच्छी ऑफ स्पिन गेंदबाजी कर लेता ता और कुछ विकेट भी हासिल किए थे।

उन्होंने कहा कि,”मेरे समय पर कुछ ज्यादा मदद भी नहीं मिलती थी। बतौर बल्लेबाज जगह बनाने की जगह अगर मुझे एक ऑलराउंडर की तरह टीम में जगह मिल जाती। मैं नंबर 6 या 7 पर बल्लेबाजी करता और तीसरे स्पिनर की भूमिका निभा लेता। बल्लेबाजी में जो कुछ भी कर सकता था उसमें बेहतर किया।”

यह भी पढ़े:हरभजन सिंह ने बताया, खेल रत्न के लिए उनका नाम नहीं भेजने के पीछे क्या है कारण

अगर आंकड़ों पर गौर करें, तो मध्य क्रम के बल्लेबाज ने फर्स्ट क्लास मैच में शानदार प्रदर्शन किया था, लेकिन टीम इंडिया में अपना स्थान पक्का करवाने में वह सफल नहीं हो पाए। उन्होंने 145 फर्स्ट क्लास मैच खेले, जिसमें उन्होंने 54.49 की औसत से 10245 रन बनाए। लिस्ट ए में इस खिलाड़ी के नाम 144 मैचों में  4164 रन दर्ज हैं और घरेलू टी20 आई के 142 मैचों में 2300 रन बनाए। वहीं खिलाड़ी को भारत के लिए 2 टेस्ट, 7 वनडे और 1 टी20 मैच में खेलने का मौका मिला।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *