Happy Birthday Angelo Mathews: जानिए उनके बारें में कुछ अनसुने तथ्य

By | 02/06/2020

श्रीलंकाई टीम के ऑलराउंडर एंजेलो मैथ्यूज (Angelo Mathews) आज अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं, इस श्रीलंकाई स्टार ऑलराउंडर का जन्म आज ही के दिन 2 जून को हुआ था। मैथ्यूज को उनके करीबी काला कहकर बुलाते हैं। उनके जन्मदिन पर ICC ने ट्वीट करके उन्हें बधाई दी है।

मैथ्यूज के जन्मदिन के मौके पर हम आपसे उनकी क्रिकेट लाइफ और क्रिकेट के बाहर से जुड़े कुछ अनसुने किस्से शेयर करने जा रहे हैं, तो आइए जानते मैथ्यूज की जिंदगी से जुड़े कुछ अनसुने किस्से…

जब बैडमिनटन खिलाड़ी के प्यार में अपना विकेट गंवा बैठे मैथ्यूज:

एंजेलो मैथ्यूज (Angelo Mathews) को क्रिकेट के उन खिलाड़ियों में गिना जाता है, जो लाइमलाइट से खुद को दूर रखते हैं।  एंजेलो जितना मैदान पर शांत दिखाई देते हैं, उतना ही उन्हें मैदान के बाहर शांत देखा जाता है।  लेकिन कोई भी शख्स कितना ही शांत क्यों ना हो, प्यार का शोर हर किसी की लाइफ में आता है। प्यार के इस शोर से मैथ्यूज भी नहीं बच पाए थे और बैडमिंटर खिलाड़ी का अपना दिल दे बैठे थे। इस बैडमिंटन खिलाड़ी का नाम है हेशानी डिसिल्वा, जो श्रीलंका के लिए  राष्ट्रीय स्तर पर खेल चुकी हैं।

लंबे रिलेशन के बाद शादी के बंधन में बंधे थे एंजेलो- हेशानी:

जब एंजेलो मैथ्यूज (Angelo Mathews) श्रीलंकाई अंडर-19 टीम का हिस्सा थे, तब पहली बार उनकी मुलाकात हेशानी डिसिल्वा से हुई थी, उसके बाद दोनों की दोस्ती हुई और नजदीकीयां बढ़ने लगी। धीरे-धीरे दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। 18 जुलाई 2013 को एंजेलो और हेशानी ने जिंदगी भर के लिए एक-दूसरे का हाथ थाम लिया था। एक रिपोर्ट के अनुसार,  श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने एंजेलो और हेशानी की शादी करवाई थी। आई विटनेस के तौर पर राजपक्षे ने मैरिज रजिस्टर पर हस्ताक्षर किए थे।

और जब सुर्खियों में आए मैथ्यूज:

एंजेलो मैथ्यूज (Angelo Mathews) का नाम उन दिनों बहुत सुर्खियों में रहा, जब उनसे श्रीलंकाई टीम की कप्तानी छिन ली गई। दरअसल, श्रीलंकाई टीम से दिग्गज खिलाड़ी महेला जयवर्धने और कुमार संगाकारा जैसे दिग्गजों के सन्यास लेने के बाद युवा टीम की जिम्मेदारी मैथ्यूज को दी गई। इस बीच श्रीलंकाई टीम का प्रदर्शन लगातार खराब होता चला गया। एशिया कप के लीग मैचों में ही बाहर होने के बाद फैंस श्रीलंकाई टीम की आलोचना हुई थी, जिसके बाद मैथ्यूज से कप्तानी छिन ली गई थी।

2008 में श्रीलंकाई टीम का हिस्सा बने मैथ्यूज:

बतातें चलें कि मैथ्यूज ने साल 2008 में श्रीलंकाई वनडे टीम का हिस्सा बने, जबकि एक साल बाद 2009 में उन्हें टेस्ट टीम में भी मौके दे दिया गया और इसी साल एंजेलो को टी-20 टीम में भी शामिल कर लिया गया। मैथ्यूज ने अबतक 86 टेस्ट की 46.3 और वनडे 41.9 की औसत से रन बनाए है, जबकि टी-20 में करीब 26 की औसत से रन बनाए है। मैथ्यूज को बचपन से क्रिकेट का माहौल मिला था, उनके पिता क्रिकेट कोच रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *