मेरे कारण गांगुली ने दी थी कप्तानी छोड़ने की धमकी: युवराज सिंह

By | 09/07/2020

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के जन्मदिन वाले दिन से ही लेकर उनके करियर के कुछ ऐसे राज सामने आ रहे हैं जो शायद कभी कोई जान नहीं पाता। कभी उनके टीम से जुड़े किस्से तो कभी उनकी पर्सनल लाइफ से रिलेटेड स्टोरी बाहर आ रही हैं। अब एक बार फिर टीम इंडिया के धाकड़ ऑलराउंडर रहे युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने खुलासा किया कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) उनकी वजह से टीम की कप्तानी छोड़ना चाहते थे।

गांगुली ने दी थी कप्तानी छोड़ने की धमकी….

छह बॉल पर छह छक्के लगाने वाले युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने नया खुलासा करते हुए बताया कि एक समय ऐसा आ गया था कि मेरी वजह से टीम इंडिया के कप्तान सौरव गांगुली ने कप्तानी छोड़ने की धमकी भी दे दी थी। गौरतलब है कि बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने हालही में अपना 48वां जन्मदिन मनाया था इस खास मौके पर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने उनके साथ किए मजाक की कहानी साझा की जिससे यह पूर्व भारतीय कप्तान नाराज हो गए थे। ये तो सभी जानते है कि सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) टीम इंडिया के सबसे गंभीर कप्तानों में से एक माने जाते है। उनके सामने अच्छे-अच्छे खिलाड़ी भी मजाक करने में कतराते हैं ऐसे में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) का ये मजाक उन्हीं पर भारी पड़ गया।

यह भी पढ़ें: आईपीएल के बगैर क्रिकेट कैलेंडर है अधूरा: जोंटी रोड्स

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने बताया “एक बार हम पाकिस्तान के खिलाफ खेल रहे थे, तो मैंने और हरभजन ने टाइम्स ऑफ इंडिया का नकली अखबार बनाया था, यह मेरा नहीं भज्जी का आइडिया था। हमने सभी खिलाड़ियों के बयान लिखे और दादा का नाम डाल दिया कि आपने लिखे हैं। मुझे याद है कि दादा ने अगले दिन कहा था कि अगर मैंने ऐसा कुछ कहा है तो मैं इस्तीफा दे दूंगा। दादा काफी नाराज हो गए थे।”

युवी ने आगे कहा “तब राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने धीरे से बताया कि यह अप्रैल फूल का मजाक है। मुझे लगता है कि दादा को पता था कि ऐसी हरकत कौन कर सकता है और दादा सीधे मेरे और भज्जी के पीछे भागे। इसके लिए माफी, लेकिन इसके लिए प्यार भी। मुझे यह लम्हा बेहद पसंद है।”

https://www.instagram.com/p/CCXoNfQDJ_0/

दादा की कप्तानी में युवी ने किया था डेब्यू…

गौरतलब है कि युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) की कप्तानी में इंटरनेशनल क्रिकेट करियर का आगाज किया था। युवी ने गांगुली की कप्तानी में इंटरनेशनल क्रिकेट करियर का आगाज किया था। युवराज सिंह टीम इंडिया के स्टार थे जिसने अपने बल्ले से सबकी बोलती बंद कर दी थी । युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ही वो खिलाड़ी थी जिसने गेंदबाज को चैंलेंज देकर छह बॉलों पर छह छक्के मारे थे।

टीम इंडिया के लिए उन्होंने 2007 और 2011 के वर्ल्ड कप में निर्णायक गेम खेला था। 2011 के वर्ल्ड कप में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) के शानदार खेल को कोई भूला नहीं सकता। खुद मैन ऑफ द मैच का टाइटल जीतकर उन्होंने भारत को विश्वविजेता का ताज पहनाया।

बेहतर विदाई की हुई थी मांग….

टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने 10 जून को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। युवी का ये फैसला सभी को अचंभित करने वाला था। उनके प्रशंसक ये इंतजार कर रहे थे युवी एक शानदार मैच खेलकर अपने क्रिकेट करियर का अंत करेंगे। इसके पीछे प्रशंसकों ने बीसीसीआई को भी जिम्मेदार माना। सबका मानना था कि युवराज सिंह की विदाई एक फेयरवेल मैच के साथ होनी चाहिए थी। सिर्फ प्रशंसक ही नहीं इस बात का समर्थन खुद भारतीय क्रिकेट टीम के उप-कप्तान और ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने भी की थी।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *