29 मई: 4 साल पहले टूटा था कोहली का ‘विराट’ सपना, ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बना था ‘विलेन’

इसमें कोई शक नहीं है कि विराट कोहली शानदार बल्लेबाज के साथ-साथ शानदार कप्तान भी है। कोहली कितने दिग्गज बल्लेबाज है, इसका अंदाजा आप इसी के साथ लगा सकते है कि क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर अपने रिकॉर्ड तोड़ने वाले दो बल्लेबाजों में कोहली को देखते है। (Sunrisers Hyderabad)

इसके अलावा कोहली की कितने काबिल कप्तान है, यह इससे पता चलता है कि कोहली की कप्तानी में ही भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीती थी, इसके अलावा साउथ अफ्रीका में पहली बार वनडे सीरीज भी जीती थी। इन सबके बावजूद कोहली आईपीएल में अपनी टीम को खिताब नहीं जीता सके। 2016 में आज ही के दिन कोहली एंड कंपनी आईपीएल विजेता बनने से मात्र एक कदम दूर रह गई थी।

सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने खेली थी विस्फोटक पारी:

David Warner (IPL 2016 Final)

बता दें कि 29 मई 2016 को रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर(आरसीबी) और सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrises Hyderabad) के बीच चिन्नास्वामी स्टेडियम में फाइनल मुकाबला खेला गया था। सनराइजर्स के कप्तान डेविड वॉर्नर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 208 रनों का पहाड़ सा स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के लिए कप्तान और तूफानी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने 38 गेंदों पर 69 रनों की तूफानी पारी खेली थी। इसके अलावा शिखर धवन(28) और युवराज सिंह(38) रनों का योगदान दिया था।

कोहली का सपना हुआ था चकनाचूर:

Sunrisers Hyderabad (IPL 2016 Champion)

बड़े टारेगट का पीछा करते हुए क्रिस गेल (76) और विराट कोहली (54) ने टीम को विस्टफोटक शुरूआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए 10.3 ओवरों में 114 रनों की साझेदारी कर डाली। जीत की तरफ आसानी से बढ़ रही आरसीबी कोहली और गेल के पवेलियन लौटने के बाद पूरी टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और 200 रन ही बना सकी। इसी के साथ कोहली एंड कंपनी ने 8 रनों के साथ मुकाबला गंवा दिया। इस तरह सेे कोहली के आईपीएल खिताब जीतने का सपना भी चकनाचूर हो गया था।

आईपीएल 2016 में कोहली ने मचाया था गदर:

Virat Kohli (IPL 2016)

आईपीएल 2016 में विराट कोहली के बल्ले ने जमकर गदर मचाया था। इस सीजन में विराट कोहली ने 16 पारियां खेली थी, जिसमें उनके बल्ले से 973 रन निकले थे। इस दौरान कोहली ने चार जानदार शतक जमाए थे। वहीं, सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के कप्तान डेविड वॉर्नर ने 17 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 9 अर्धशतकों के बदौलत 848 रन बनाए थे।

Author: Anuj Machal

Category: On This Day Tags: , ,

About नीतिश कुमार मिश्र

नीतिश कुमार मिश्र (Neetish Kumar Mishra) CRICKHABARI.COM के फाउंडर हैं। वे साल 2016 से खेल पत्रकारिता की दुनिया में सक्रिय हैं और अब तक एक हजार से अधिक खबरें लिख चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *