3 खिलाड़ी जिन्होंने भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के लिए क्रिकेट खेला है

भारत और पाकिस्तान क्रिकेट के मैदान पर ही नहीं बल्कि असल जिंदगी में भी एक दूसरे के प्रबल प्रतिद्वंद्वी माने जाते हैं। साल 2008 में हुए मुंबई बम धमाके के बाद बीसीसीआई ने पाकिस्तान से किसी भी प्रकार की द्विपक्षीय सीरीज खेलने से इनकार कर दिया था। तब से लेकर अब तक दोनों देश किसी आईसीसी इवेंट या एसीसी इवेंट में ही आमने-सामने होते हैं। (3 Players Who Played Cricket For India And Pakistan Both)

क्रिकेट के इतिहास में 3 खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्होंने भारत और पाकिस्तान दोनों के लिए अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। आज हम आपको उन्हीं 3 खिलाड़ियों के बारे में अवगत कराने जा रहे हैं।

3 Players Who Played Cricket For India And Pakistan Both:

#3. गुल मोहम्मद (Gul Mohammad):

भारत में जब क्रिकेट की शुरुआत हुई थी तब अच्छे खिलाड़ियों को महाराजा या नवाब अपने टीम की ओर से खेलने के लिए आमंत्रित करते थे। गुल मोहम्मद (Gul Mohammad) को बड़ौदा के महाराजा ने अपने टीम की ओर से खेलने के लिए विशेष आमंत्रित किया। उस टीम में विजय हज़ारे, आमिर इलाही, बी.बी. निम्बिकार और सीएस नायडू जैसे दिग्गज पहले से ही मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: 5 बल्लेबाज जो अपने वनडे क्रिकेट करियर में कभी शून्य पर आउट नहीं हुए

गुल मोहम्मद (Gul Mohammad) अच्छे टॉप ऑर्डर बैट्समैन, तेज गेंदबाज और बेहतर कवर फील्डर थे। गुल मोहम्मद ने 1946-47 के रणजी ट्रॉफी फाइनल में होल्कर और बड़ौदा के बीच खेले गए मैच में विजय हज़ारे के साथ मिलकर 577 रनों की यादगार पार्टनरशिप की थी, जिसमें से उन्होंने 319 रन और विजय हज़ारे ने 288 रन बनाए थे। गुल मोहम्मद ने उस सीजन सर्वाधिक 596 रन बनाए थे, जबकि विजय हज़ारे (561 रन) दूसरे स्थान पर थे।

साल 1946 में गुल मोहम्मद (Gul Mohammad) को भारत की ओर से इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स के मैदान में टेस्ट डेब्यू का मौका मिला। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 टेस्ट मैच और पाकिस्तान के खिलाफ 2 टेस्ट मैच भी खेले।

इसके बाद वे साल 1952 में वे अपने जन्म स्थान लाहौर चले गए और 1956 में पहली बार पाकिस्तान के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच खेला। गुल मोहम्मद ने भारत की ओर से 8 मैच और पाकिस्तान की ओर से एक मैच खेलने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सेन्यास ले लिया। (3 Players Who Played Cricket For India And Pakistan Both)

#2. आमिर इलाही (Amir Ilahi):

आमिर इलाही

लेग ब्रेक गेंदबाज आमिर इलाही (Amir Ilahi) का करियर उतना बड़ा नहीं रहा है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे उम्रदराज खिलाड़ियों की लिस्ट में उनका नाम शामिल है। आमिर इलाही ने साल 1947 में भारत के लिए पहली और आखिरी टेस्ट मैच खेला था। यह मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया था।

आमिर इलाही (Amir Ilahi) ने बड़ौदा के लिए रणजी क्रिकेट भी खेला था। वे भी विजय हज़ारे और गुल मोहम्मद के बीच हुई 577 रनों की एतिहासिक साझेदारी के गवाह थे। आमिर इलाही ने उस मैच में 109 रन देकर 9 विकेट लेते हुए बड़ौदा की जीत में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था। (3 Players Who Played Cricket For India And Pakistan Both)

इसके बाद आमिर इलाही (Amir Ilahi) पाकिस्तान चले गए और वहीं की नागरिकता भी ले ली। 1952-53 में टेस्ट स्टेटस मिलने के बाद उन्होंने पाकिस्तान की ओर से 5 टेस्ट मैच भी खेले और कुल 7 विकेट हासिल किए। आमिर इलाही ने अपना अंतिम टेस्ट मैच 44 साल की उम्र में भारत के खिलाफ खेला था। 

1. अब्दुल हफीज़ करदार (Abdul Hafeez Kardar):

अब्दुल हफीज़ करदार

अब्दुल हफीज़ करदार (Abdul Hafeez Kardar) को ‘फादर ऑफ पाकिस्तान क्रिकेट’ कहा जाता है। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ अविभाजित भारत (Undivided India)का प्रतिनिधित्व किया था। लेकिन उस सीरीज में वो अपनी छाप नहीं छोड़ पाए थे। विभाजन के बाद वे पाकिस्तान चले गए।

साल 1952 में पाकिस्तान को टेस्ट स्टेटस मिलने के बाद वे पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पहले कप्तान बने। पाकिस्तान की ओर से खेलते हुए उन्होंने भारत के खिलाफ डेब्यू किया था।

अब्दुल हफीज़ करदार (Abdul Hafeez Kardar) ने अपनी कप्तानी में पाकिस्तान को उस समय टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सभी देशों के खिलाफ मैच जिताया था। उन्होंने पाकिस्तान के लिए कुल 23 टेस्ट मैच खेले। इसके बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास की घोषणा कर दी। सन्यास के बाद वे पाकिस्तान टीम के प्रशासक बने।

साल 1958 में पाकिस्तान सरकार ने उन्हें ‘प्राइड ऑफ परफॉर्मेंस अवॉर्ड’ से सम्मानित किया था। पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ी इमरान खान और इंज़माम उल-हक़ के शुरुआती करियर को सुधारने का श्रेय अब्दुल हफीज़ (Abdul Hafeez Kardar) को ही जाता है।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *