जन्मदिन विशेष: अजिंक्य रहाणे के अंतरराष्ट्रीय करियर की 5 सबसे यादगार पारियां

By | 06/06/2020

भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) आज अपना 33वां जन्मदिवस मना रहे हैं। भारतीय क्रिकेट में अजिंक्य रहाणे का एक भी एक बहुत बड़ा नाम रहा हैं। साल 2011 से अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज करने वाले अजिंक्य रहाणे आज टेस्ट टीम के मुख्य खिलाड़ियों में से एक है।

मौजूदा समय में भले ही अजिंक्य रहाणे को टेस्ट टीम के साथ देखा जाता हो, लेकिन सीमित ओवर प्रारूप में भी उन्होंने अपने प्रदर्शन से सभी को खासा प्रभावित किया हैं। अजिंक्य रहाणे ने तीनों ही फॉर्मेट में टीम इंडिया को अकेले अपने दम पर बड़े बड़े मैच जीतकर दिए है।

भारत के लिए खेले 65 टेस्ट मैचों में रहाणे लगभग 43 की शानदार औसत के साथ 4203 रन बना चुके है, जबकि 90 एकदिवसीय मैचों में अजिंक्य के बल्ले से 35.26 की औसत के साथ 2962 रन देखने को मिले। 20 टी20I मुकाबलों में भी अजिंक्य रहाणे 113.29 के बढ़िया स्ट्राइक रेट के साथ 375 रन जोड़ चुके है। टेस्ट और वनडे में उनके नाम मिलाकर 14 शतक दर्ज है।

आज अजिंक्य रहाणे के जन्मदिन के उपलक्ष में हम उनके अंतरराष्ट्रीय करियर से जुड़ी पांच सबसे यादगार पारियों के बारे में बताने जा रहे है।

अजिंक्य रहाणे के करियर की 5 सबसे यादगार पारियां :

5 . अजिंक्य रहाणे (61 बनाम इंग्लैंड, टी20 फॉर्मेट)

इस सूची में सबसे पहली पारी के रूप में अजिंक्य रहाणे का टी20 डेब्यू याद आता है। रहाणे ने टीम इंडिया के लिए अपना टी20 डेब्यू साल 2011 में इंग्लैंड के विरुद्ध 31 अगस्त को मैनचेस्टर के मैदान पर किया था। और अपने पहले ही मुकाबलें में अजिंक्य रहाणे ने बतौर ओपनर एक यादगार पारी खेली थी।

अजिंक्य रहाणे मेजबान टीम के खिलाफ मात्र 39 गेंदों में शानदार 61 रन बनाने में कामयाब हुए थे। अपनी इस पारी में रहाणे ने कुल आठ चौके भी जमाए थे और उनका स्ट्राइक रेट 156.41 का रहा था, जो वाकई में बेहद ही लाजवाब भी था।

इस मैच में अजिंक्य रहाणे अपने टी20I डेब्यू पर अर्द्धशतक लगाने वाले सबसे पहले भारतीय खिलाड़ी भी बने थे। रहाणे की बेहतरी पारी की बदौलत टीम इंडिया ने 165 रनों का स्कोर बनाया था और इंग्लैंड के सामने 166 रनों का लक्ष्य रखा था। हालांकि भारतीय टीम यह मैच छह विकेट से हार गयी थी।

4 . 103 बनाम इंग्लैंड, 2014 लॉर्ड्स टेस्ट मैच

साल 2014 में भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने गयी थी और सीरीज का दूसरा टेस्ट लॉर्ड्स के ऐतिहासिक स्टेडियम में खेला गया था। इस मुकाबलें में अजिंक्य रहाणे ने एक ऐसी पारी खेली थी, जिसको शायद ही कोई खेल प्रेमी भुला सके।

अजिंक्य रहाणे ने नंबर 5 पर बल्लेबाजी करते हुए 154 गेंदों में लाजवाब 103 रन बनाये थे। अपनी इस पारी के दौरान रहाणे ने 15 चौके और एक छक्का भी लगाया था। रहाणे का टेस्ट करियर का यह सिर्फ दूसरा ही शतक था। अजिंक्य रहाणे की शतकीय पारी की बदौलत भारत ने पहली पारी में 295 रनों का स्कोर बनाया था और इंग्लैंड पहली पारी में 319 रन बनाने में सफल रही थी।

दूसरी पारी में मुरली विजय के 95 के साथ साथ रविन्द्र जडेजा और भुवनेश्वर कुमार के अर्द्धशतक के कारण टीम 342 रन बनाने में सफल रही और इंग्लैंड के सामने 319 रनों का लक्ष्य रखा। अंत में टीम इंडिया ने यह मैच 95 रनों से जीतकर नायाब इतिहास रचा था।

3 . 79 बनाम दक्षिण अफ्रीका, मेलबर्न 2015 विश्व कप

सूची में तीसरे स्थान पर अजिंक्य रहाणे की साल 2015 के एकदिवसीय विश्व कप में खेली गयी पारी याद आती है। विश्व कप का 13वां मुकाबला भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मेलबर्न के मैदान पर खेला गया था और इस मैच में रहाणे ने एक बहुत ही आक्रामक पारी खेल अफ्रीकी गेंदबाजों के छक्के छुड़ा दिए थे।

अजिंक्य रहाणे ने नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए मात्र 60 गेंदों के भीतर काबिल ए तारीफ 79 रन बनाये थे। अपनी इस विस्फोटक पारी में अजिंक्य रहाणे ने सात चौके और तीन गगनचुंबी छक्के भी लगाये थे। कहने को तो इस मैच में शिखर धवन ने भी शतकीय पारी खेली थी, लेकिन रहाणे की पारी के चर्चे आज तक फैंस और एक्सपर्ट्स की जुबां पर सुनने को मिलते है।

भारत ने इस मैच में 307/7 का स्कोर बनाया था और दक्षिण अफ्रीकी की टीम केवल 177 रनों पर ढेर हो गयी थी। भारतीय टीम ने यह मुकाबला पूरे 130 रनों के विशाल अंतर से जीतकर अपने नाम किया था। इस मुकाबलें में अजिंक्य रहाणे का स्ट्राइक रेट 131.66 का देखने को मिला था।

2 . 147 बनाम ऑस्ट्रेलिया, मेलबर्न टेस्ट 2014

साल 2014-15 में भारतीय टीम चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गयी थी और श्रृंखला का तीसरा टेस्ट मैच मेलबर्न क्रिकेट स्टेडियम पर खेला गया था। इस टेस्ट मैच में भी टीम इंडिया के उपकप्तान ने एक बेहद ही प्रभावशाली पारी खेल सभी का मन मोह लिया था।

अजिंक्य रहाणे ने ऑस्ट्रेलिया के खतरनाक गेंदबाजों का सामना करते हुए केवल 171 गेंदों में 147 रन बनाये थे। अपनी इस तीसरी शतकीय पारी के दौरान रहाणे ने कुल 21 दनदनाते हुए चौके भी जमाए थे। इस टेस्ट मैच में अजिंक्य रहाणे और विराट कोहली (169) के बीच चौथे विकेट के लिए शानदार 262 रनों की साझेदारी भी देखने को मिली थी।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 530 रन बनाये थे, जबकि टीम इंडिया भी 465 का स्कोर बनाने में सफल रही थी। ऑस्ट्रेलिया टीम दूसरी पारी में 318/9 का स्कोर बनाने में कामयाब रही और टीम इंडिया के सामने 384 रनों का लक्ष्य रखा। भारत ने अंतिम स्कोर 174/6 रहा और मैच बिना किसी परिणाम के समाप्त हो गया।

दूसरी पारी में भी रहाणे ने विपरीत परिस्तिथियों में 117 गेंदों में 48 रनों का योगदान दिया था। आप सभी को बताते चले कि एमएस धोनी का टेस्ट क्रिकेट में यह अंतिम मैच भी रहा था।

1 . 188 बनाम न्यूजीलैंड, इंदौर टेस्ट 2016

इस सूची में सबसे पहली पारी के रूप में अजिंक्य रहाणे की न्यूजीलैंड के विरुद्ध इंदौर के मैदान पर खेली गयी अद्दभुत 188 रनों की पारी शामिल है। 2016 में भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीसरा टेस्ट इंदौर के होलकर क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया था और अजिंक्य रहाणे ने पहली पारी के दौरान शानदार 188 रनों बनाये थे।

अपनी पारी में रहाणे ने 381 गेंदों का सामना किया था और पारी को 18 चौके और चार छक्कों से सजाया था। अजिंक्य रहाणे के टेस्ट करियर का यह सबसे बड़ा स्कोर भी रहा। पहली पारी में यादगार शतक के बाद दूसरी पारी में भी रहाणे 23 के स्कोर पर नाबाद लौटे थे।

भारत ने पहली पारी में 557/5 का स्कोर बनाया और कीवी टीम 299 रनों पर सिमट गयी। टीम इंडिया दूसरी पारी में 216/3 का स्कोर बनाने में कामयाब हुई मेहमान टीम के सामने 475 रनों का लक्ष्य रखा। मगर न्यूजीलैंड टीम सिर्फ 153 के स्कोर पर ही ऑल आउट हो गयी और टीम इंडिया ने यह मैच 321 रनों के विशाल अंतर से जीतकर अपने नाम किया।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमेंफेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्रामपर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *