मेरे साथ भी इंग्लैंड में हुआ नस्लभेद – आकाश चोपड़ा

By | 10/06/2020

अमेरिका में नस्लभेदी आंदोलन को जन समर्थन मिला और उसके बाद बड़े बड़े क्रिकेटर इसको लेकर मुखर हुए हैं। डैरेन सेमी (Darren Sammy), ब्रावो (Dwayne Bravo), आदि दिग्गज खिलाड़ियों के बोलने के बाद अब भारतीय खिलाड़ियों ने भी इसके खिलाड़ी मोर्चा खोल दिया है। पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने बताया है कि उनके साथ भी इंग्लैंड (England) में नस्लवाद (Racism) हुआ है।

ज्ञात हो कि एक दिन पहले ही वेस्ट इंडीज के खिलाड़ी डैरेन सैमी (Darren Sammy) ने सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के टीम कैंप के दौरान हुए भेदभाव का खुलासा किया था। अब पूर्व भारतीय बल्लेबाज भी आगे आए हैं। उन्होंने याद करते हुए बताया है कि एक लीग मैच के दौरान इंग्लैंड में उन्हें इसका सामना करना पड़ा था।

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के दो खिलाड़ियों ने लगातार उनके खिलाफ नस्लभेदी टिप्पणियां की थीं। इस घटना को बताते हुए उन्होंने कहा कि – “हम सब कभी ना कभी नस्लभेद का शिकार हुए ही हैं। मुझे याद है इंग्लैंड में एक लीग मैच के दौरान विरोधी टीम के 2 खिलाड़ियों ने मुझसे लगातार बुरा व्यवहार किया। वो मुझे लगातार ‘ पाकी’ कह रहे थे। मैंने अपनी तरफ से उन्हें हानि पहुंचाने की बिल्कुल कोशिश नहीं की फिर भी वे दोनों मेरी जान के पीछे पड़ गए थे।”

यह भी पढ़ें: नस्लवाद पर ब्रावो को आया गुस्सा, कहा- ‘अब बहुत हुआ’

आकाश ने अपनी बात एक यूट्यूब वीडियो में कही है। इसमें ‘ का मतलब बताते हुए वे कहते हैं कि “हममें से बहुतों को लगता है कि ये पाकिस्तान का शॉर्ट फॉर्म है लेकिन ऐसा नहीं है। वे सभी एशियन देशों के बाशिंदों को ‘पाकी’ कह कर ही बुलाते हैं। ये एक नस्लभेदी नाम है जो इंग्लैंड में जान बूझ कर बोला जाता है।”

यह समस्या दुनिया के हर कोने में है इस बात से सहमत होते हुए बल्लेबाज का कहना है कि “भारत में भी ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी एंड्र्यू सायमंड्स (Andrew Symonds) को नस्लभेद झेलना पड़ा है। जब वह भारत आए थे तब वानखेड़े स्टेडियम में उन पर कई टिप्पणियां हुई थीं।”

2003-2004 के बीच 10 टेस्ट मैच खेलने वाले क्रिकेटर आकाश चोपड़ा अमेरिका के इस आंदोलन के सपोर्ट में हैं।उन्होंने आईसीसी व अन्य क्रिकेट बोर्ड के सामने भी इस समस्या को उठाया है।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमेंफेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्रामपर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *