एबी डीविलियर्स के 3 रिकॉर्ड जिसे तोड़ना बेहद मुश्किल है

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एबी डीविलियर्स ने साल 2018 में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेकर सबको चौंका दिया। अपने अन्तर्राष्ट्रीय करियर में उन्होंने कई ऐसे कारनामे किए हैं, जिसे दोहराना किसी भी बल्लेबाज के लिए सपने जैसा है। आज हम उन्हीं के बारे में बात करने जा रहे हैं।

AB De Villiers 3 World Records That Might Be Unbreakable:

3. 60 गेंदों के अंदर सबसे ज्यादा बार शतक:

AB De Villiers

एबी डीविलियर्स वनडे करियर में 4 बार 60 गेंदों के अंदर शतक लगाने का कारनामा कर चुके हैं। विश्व का कोई भी बल्लेबाज अब तक इस रिकॉर्ड को नहीं दोहरा पाया है। पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी 3 बार और श्रीलंका के सनथ जयसूर्या 2 बार यह कारनामा कर चुके हैं।

2. वनडे क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक, शतक और 150 रन:

AB De Villiers

एबी डीविलियर्स के नाम 16 गेंदों पर अर्धशतक, 31 गेंदों पर शतक और 64 गेंदों पर 150 बनाने का अटूट रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने 18 जनवरी 2015 को वेस्टइंडीज के खिलाफ एक ही मैच में सबसे तेज अर्धशतक और शतक लगाया था, जबकि फरवरी 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ ही 64 गेंदों पर 150 जड़ा था।

1. 30 ओवर के बाद बल्लेबाजी करते हुए 2 बार शतक:

AB De Villiers

आम तौर पर 30 ओवर के बाद आकर बल्लेबाजी करते हुए शतक लगाना बेहद मुश्किल होता है। लेकिन एबी डीविलियर्स ने यह कारनामा 2 बार किया है। उन्होंने भारत के खिलाफ 2010 में 33वें ओवर में पारी की शुरुआत करते हुए शतक जड़ा। फिर 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 39वें ओवर में पारी की शुरुआत करते हुए शतक जड़ते हुए 149 रनों की पारी खेली।

यह भी पढ़ें: टी20 क्रिकेट इतिहास के 6 सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, कोहली-रोहित से भी ऊपर हैं ये धुरंधर

Hindi Cricket NewsDream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुकट्विटरPinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Category: Cricket Records Tags:

About नीतिश कुमार मिश्र

नीतिश कुमार मिश्र (Neetish Kumar Mishra) CRICKHABARI.COM के फाउंडर हैं। वे साल 2016 से खेल पत्रकारिता की दुनिया में सक्रिय हैं और अब तक एक हजार से अधिक खबरें लिख चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *