राहुल द्रविड़ ने सिखाया कि क्रिकेट से अलग भी एक दुनिया है- पुजारा

By | 27/06/2020

भारतीय टेस्ट टीम में राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के जाने के बाद एक भरोसेमंद टिकाऊ बल्लेबाज की भूमिका को चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने बखूबी संभाला है। वहीं पुजारा (Cheteshwar Pujara) भी राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को अपने जीवन का सबसे अहम इंसान मानते हैं।

दरअसल पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने हाल ही में एक बयान में कहा कि उनके जीवन पर द्रविड़ के प्रभाव को शब्दों में नहीं बयां किया जा सकता है। पुजारा (Cheteshwar Pujara) का मानना है कि पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को अलग रखने की शिक्षा उनको द्रविड़ (Rahul Dravid) ने दी और वे इसके लिए उनके शुक्रगुजार हैं।

पुजारा (Cheteshwar Pujara)  ने बताया कि, ‘उन्होंने मुझे क्रिकेट से दूर रहने के महत्व को समझने में मदद की। मेरे पास एक ही विचार था, लेकिन जब मैंने उससे बात की तो उन्होंने मुझे इसके बारे में बहुत स्पष्टता के साथ बताया। मुझे ऐसी सलाह की जरूरत थी। मैंने काउंटी क्रिकेट में भी देखा कि कैसे वे व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन को अलग रखते हैं। मैं उस सलाह को बहुत महत्व देता हूं। बहुत से लोग मानते हैं मैं अपने खेल पर जरूरत से ज्यादा ध्यान देता हूं । हां, मैं ऐसा हूं, लेकिन मुझे यह भी पता है कि कब पेशेवर जीवन से दूरी बनानी है। क्रिकेट से परे भी जीवन है।’

उन्होंने आगे कहा कि, ‘मेरी पसंद-नापसंद बदलती रहती है लेकिन द्रविड़ मेरे लिए काफी मायने रखते हैं। मेरे लिए वो हमेशा प्रेरणा के स्रोत रहे हैं और रहेंगे।’

पुजारा (Cheteshwar Pujara) ने ये भी कहा कि द्रविड़ (Rahul Dravid) से अटैच होने के बाद भी उन्होंने कभी उनकी नकल करने की कोशिश नहीं की। गौरतलब है कि द्रविड़ ने 164 टेस्ट में 13288 रन और 344 वनडे में 10889 रन बनाए। उन्होंने 79 एकदिवसीय मैचों में भारत की कप्तानी भी की, जिनमें से 42 में टीम को जीत मिली। उनके नाम रनों का पीछा करते हुए लगातार 14 जीत दर्ज करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *