अशांथा डी मेल: श्रीलंका की ओर से टेस्ट क्रिकेट में पहली गेंद फेंकने वाला गेंदबाज

साल 1959 में कोलंबो में जन्में श्रीलंका क्रिकेट टीम के वर्तमान मुख्य चयनकर्ता एवं पूर्व मीडियम पेसर अशांथा डी मेल (Ashantha De Mel) आज 09 मई को अपना 62वां जन्मदिन मना रहे हैं। बहुत कम ही लोग जानते होंगे कि वे श्रीलंकाई टेस्ट क्रिकेट इतिहास में पहली गेंद फेंकने वाले गेंदबाज हैं।

श्रीलंका ने पहला टेस्ट मैच साल 1982 में इंग्लैंड के खिलाफ कोलंबो में खेला था, जिसमें इंग्लैंड ने उन्हें 7 विकेट से हराया था। इस मैच में अशांथा डी मेल (Ashantha De Mel) ने श्रीलंका की ओर से पहली बॉल फेंककर इतिहास के पन्नो में अपना नाम दर्ज किया था।

श्रीलंका क्रिकेट इतिहास के पहले टेस्ट मैच में अशांथा डी मेल (Ashantha De Mel) ने पहली पारी में 4 और दूसरी पारी में 1 विकेट चटकाए थे। वे इस मैच में श्रीलंका की ओर से सबसे अधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज भी थे। इस मैच में श्रीलंकाई टीम का नेतृत्व बंडूला वर्नापुरा (Bandulla Warnapura) कर रहे थे।

अशांथा डी मेल का क्रिकेट करियर (Cricket Career Of Ashantha De Mel):

मीडियम पेसर अशांथा डी मेल (Ashantha De Mel) का क्रिकेट करियर मात्र 5 साल तक ही चला। उन्होंने फरवरी 1982 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे एवं टेस्ट डेब्यू किया। डी मेल ने दिसंबर 1986 में भारत के खिलाफ अंतिम टेस्ट और अक्टूबर 1987 में इंग्लैंड के खिलाफ अपना अंतिम वनडे मैच खेला।

डी मेल के नाम 17 टेस्ट मैचों में 36.94 की औसत से 59 विकेट, 54 वनडे मैचों में 37.91 की औसत से 59 विकेट, 42 फर्स्ट क्लास मैचों में 37.90 की औसत से 109 विकेट और 70 लिस्ट-ए मैचों में 37.23 की औसत से 69 विकेट दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें: टी20 क्रिकेट इतिहास के 6 सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, कोहली-रोहित से भी ऊपर हैं ये धुरंधर

Category: On This Day

About नीतिश कुमार मिश्र

नीतिश कुमार मिश्र (Neetish Kumar Mishra) CRICKHABARI.COM के फाउंडर हैं। वे साल 2016 से खेल पत्रकारिता की दुनिया में सक्रिय हैं और अब तक एक हजार से अधिक खबरें लिख चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *