सैमी क्यों बोले- मुझे गर्व है कि मैं ब्लैक हूँ ?

By | 28/08/2020

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डेरेन सैमी का अहम बयान सामने आया है। नस्लवाद जैसे अहम मुद्दे पर बोलते हुए सैमी ने कहा है कि मुझे अपने ब्लैक होने पर न सिर्फ गर्व है, बल्कि कोई मुझे कमतर महसूस नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि ये एक महत्वपूर्ण विषय है, जिसके बारे में बात करने और इस पर चर्चा करने की जरूरत है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि इसे समाज के सभी हिस्सों से खत्म किया जा सके।

मई में अमेरिका में अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के बाद से, ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ अभियान दुनिया भर में चला। कई खेल हस्तियां भी इसे अपना समर्थन दे रही हैं। ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ आंदोलन शुरू होने के बाद से ही सैमी लगातार इस मुद्दे पर आवाज बुलंद कर रहे हैं।

सैमी का कहना है कि अगर मुझे कोई समस्या हुई है या मेरी टीम पर कोई असर होता है तो मैं खड़ा होऊंगा और इसके बारे में बोलूंगा। कुछ लोग दूसरों की तरह खुलकर अपनी बात नहीं रखते और इसीलिए जो लोग हैं, उनके लिए आवाज उठानी चाहिए,

सैमी ने नस्लवाद पर बात करते हुए कहा कि “मुझे लगता है कि ये एक बड़े पैमाने पर चर्चा का महत्वपूर्ण विषय है जिस पर चर्चा करने की आवश्यकता है। क्योंकि यह संस्थागत या प्रणालीगत नस्लवाद के बारे में नहीं है,

सैमी ने कहा कि “हमें इसे मिटाने की कोशिश करने की जरूरत है क्योंकि हर इंसान समान व्यवहार का हकदार है।”

वहीं वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान ने आईसीसी को भी भ्रष्टाचार विरोधी मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करने के अलावा, नस्लवाद के मुद्दों पर भी ध्यान देने की नसीहत दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *