हरभजन की सलाह से मेरी गेंदबाजी में आया सुधार: युजवेंद्र चहल

By | 13/06/2020

अपनी धारधार गेंदबाजी के दम पर भारतीय टीम में अपनी जगह बना चुके भारत के युवा लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने विदेशी सरजमीं पर ऐसे कारनामें किए हैं, जो शायद किसी ने न किए हो। हाल ही में उन्होंने बताया है कि दिग्गज भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) की सलाह के बाद उनके गेंदबाजी में काफी सुधार आया।

उन्होंने बताया कि एक बार भज्जी (Harbhajan Singh) ने मुझसे बोला था कि एक गेंदबाज के रूप में तुम अपनी गेंदबाजी स्किल्स पर काम करो, तुम्हारी मजबूतीयह है कि तुम्हारी गेंदबाजी में विभिन्नता है, जो किसी भी बल्लेबाज को चकमा दे सकती है।

चहल (Yuzvendra Chahal) ने Espncricinfo से बात करते हुए बताया कि मैंने चिन्नास्वामी में बहुत से गेंदबाजों को विभिन्न तरीकों से गेंदबाजी करते हुए देखा है। मैं यह बात अपनी टीम के बल्लेबाजों को बताता हूँ, ताकि वह उनके खिलाफ संभल कर बल्लेबाजी कर सके।

ICC द्वारा लार पर प्रतिबंध लगाए जाने पर चहल (Yuzvendra Chahal) ने कहा कि इसका असर समान रूप से स्पिनरों पर भी पड़ेगा। क्योंकि लार का प्रयोग से गेंद को स्विंग कराने में मदद मिलती है। इससे बीच के ओवर्स में बल्लेबाजों को खेलने में आसानी होगी। चहल ने यह भी कहा कि नेट पर अभ्यास करने के दौरान इस पर काम करेंगे और इसका समाधान निकालेंगे।

यह भी पढ़े:लोगों की लापरवाही के लिए हरभजन सिंह ने डॉक्टरों से मांगी माफी

चहल (Yuzvendra Chahal) ने यह भी बताया कि गेंद को चमकाने के लिए लार का प्रयोग जरूरी है क्योंकि हमें पता होता है कि दूसरे छोर से गेंदबाजी करने तेज गेंदबाज आयेगा। कप्तान चाहते है कि बीच के ओवर्स में विकेट ली जाए। पिच में जब गेंद घूम रही होती है तो ऐसी स्थिति में बल्लेबाजी करना और मुश्किल हो जाता है। हम हमेशा बीच के ओवरों में विकेट लेने पर विश्वास करते है।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *