Eng vs WI:दूसरे टेस्ट मैच में बारिश की वजह से हुई देरी को लेकर जिम्मी नीशम ने किया इंग्लैंड को ट्रोल

By | 17/07/2020

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच 16 जुलाई से शुरू हो चुका है। मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले जा रहे इस टेस्ट मैच में बारिश की वजह से 90 मिनट की देरी हुई। इसी बीच इंग्लैंड के ऑलराउंडर जेम्स नीशम (James neesham) ने हाल ही में एक ट्वीट किया है। जो कि सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उनके इस ट्वीट पर फैंस भी मज़े ले रहें है।

जिम्मी नीशम के ट्वीट पर एक यूजर ने टि्वटर पर लिखा- एक ऐतिहासिक दुर्घटना, क्रिकेट का आविष्कार एक ऐसे देश में किया गया था, जहां कभी भी तेज बारिश को नहीं रुक पाती। बता दें कि पिछले साल ICC वर्ल्ड कप 2019 भी इंग्लैंड में खेला गया था। उस दौरान भी बारिश ने कई मैच बिगाड़े थे। बारिश की वजह से इंग्लैंड को वर्ल्ड कप के दौरान भी जमकर ट्रोल किया गया था। 

इस यूजर के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए जिम्मी नीशम ने लिखा- “शायद यही वजह है कि ब्रिटेन ने दुनिया भर के देशों में राज किया था। वो ऐसी जगह की तलाश करना चाहते थे, जहां टेस्‍ट मैच का आयोजन ठीक से करा सकें।” नीशम के इस मजेदार ट्वीट को फैन्स काफी पसंद कर रहे हैं और इस पर अपने रिऐक्शन भी दे रहे हैं।

बता दें कि पहले दिन का खेल समाप्त होने तक मेजबान टीम ने 3 विकेट के नुकसान पर 207 रन बना लिए थे। इंग्लैंड के ओपनर डॉम सिबली (Dom Sibley) 86 रन और ऑलराउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) 59 रन बनाकर नाबाद है। दोनों के बीच अभी तक 126 रनों की पार्टनरशिप हो चुकी है।

मेहमान टीम के कप्तान होल्डर ने टॉस जितने के बाद इंग्लैंड टीम को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। धीमी गति से खेल रहें इंग्लिश टीम को 29 रन के स्कोर पर रोर बर्न्स के रूप में पहला झटका लगा।

यह भी पढ़े:IPL को आयोजित कराने के लिए पूर्ण रुप से तैयार है यूएई, टीमों ने दिखाई हरी झंडी

वेस्टइंडीज़ के तेज गेंदबाज चेस को 2 विकेट और अल्ज़ारी जोसेफ ने इंग्लैंड के एक बल्लेबाज को पवेलियन की राह दिखाई।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *