विलियमसन ने बताया वर्ल्ड कप फाइनल के सुपर ओवर में मार्टिन गुप्टिल और जिमी नीशम को क्यों भेजा!

By | 30/06/2020

2019 वर्ल्ड कप (2019 World Cup) का फाइनल मैच तो सबको याद होगा। न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच हुआ यह फाइनल मैच वर्ल्ड कप के इतिहास का सबसे रोमांचक मैच था। यह वर्ल्ड कप भले ही इंग्लैंड ने जीता हो लेकिन लाखों लोगों के दिलों को न्यूजीलैंड ने जीता था। आज इतने दिनों बाद न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) ने बताया कि उन्होंने इस ऐतिहासिक फाइनल मैच के सुप ओवर में दिग्गज खिलाड़ी मार्टिन गुप्टिल (Martin Guptill) और जिमी नीशम (Jimmy Neesham) को क्यों भेजा था?

मार्टिन गुप्टिल और जिमी नीशम को चुनने की ये थी वजह…

सुपर ओवर के बारे में बात करते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) ने मार्टिन गुप्टिल ((Martin Guptill) और जिमी नीशम (Jimmy Neesham) को भेजने के पीछे अपनी विचार-प्रक्रिया को समझाया। यह मैच जीताने के लिए मार्टिन गुप्टिल और जिमी नीशम को ही क्यों चुना इस बात से विलियमसन ने अब पर्दा उठाया है। विलियमसन ने कहा कि “टूर्नामेंट में नीशम के हिटिंग फॉर्म ने उन्हें एक अच्छा विकल्प बना दिया था। गुप्टिल टूर्नामेंट के माध्यम से सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं थे लेकिन विलियमसन ने विकेटों के बीच उनकी तेज दौड़ की क्षमता का समर्थन किया और उनको चुना। ”

यह भी पढ़ें: तीन महीने के ब्रेक के बाद स्टीव स्मिथ ने शुरू की नेट प्रैक्टिस

एक यूट्यूब शो में रविचंद्र अश्विन (Ravichandran Ashwin) से बात करते हुए केन विलियमसन ने बताया “कोच गैरी स्टीड के साथ मेरी बहुत ही लम्बी चर्चा हुई, मेरे दिमाग में कुछ लोग थे जो बल्लेबाजी करने के लिए इस सुपर ओवर में जा सकते थे क्योंकि हम सुपर ओवर में लक्ष्य का पीछा करने के लिए बल्लेबाजी करने जा रहे थे। बल्लेबाजों को भेजने का हमारा फैसला इस पर निर्भर था कि हमें कितने रनों के लक्ष्य की पीछा करना हौ और कौन गेंदबाज गेंदबाजी करने वाला है।”

उन्होंने आगे कहा यह अपने आप को सर्वश्रेष्ठ संभव अवसर देने के बारे में सोचना था, नीशम पूरे विश्व कप में गेंद को बहुत अच्छी तरह से मार रहे थे और हम सभी जानते हैं कि गुप्टिल वास्तव में गेंद को पार्क से बाहर मारने में कितने सक्षम है, वहां मैदान में एक तरफ एक छोटी सी सीमा थी। वे दोनों 22 गज की इस पिच के बीच तेज हैं इसलिए इससे भी मदद मिली।”

सुपर ओवर में इंग्लैंड को मिली थी जीत….

2019 के वर्ल्ड कप के फाइनल के ड्रा होने के बाद जो सुपर ओवर हुआ उसमें इंग्लैंड ने 15 रन बनाए थे। लक्ष्य का पीछा करने के लिए न्यूजीलैंड ने मार्टिन गुप्टिल और जिमी नीशम को बल्लेबाजी के लिए नामित किया। गुप्टिल और नीशम दोनों सुपर ओवर में 15 रन बनाने में सफल रहे लेकिन अंतिम गेंद पर गुप्टिल रन आउट हो गए। गुप्टिल का आउट होना एक बार फिर इस सुपर ओवर को भी टाई कर गया। अंत में किस टीम ने ज्यादा बाउंड्री मारी इस पर विजेता का चयन हुआ और ट्रॉफी इंग्लैंड की झोली में गई।

विलियमसन ने की अपनी टीम की तारीफ…

यह वर्ल्ड कप भले ही न्यूजीलैंड ने न जीता हो लेकिन लोगों के दिलों को इसी टीम ने जीता। एक कप्तान के तौर पर केन विलियमसन (Kane Williamson) के लिए यह सबसे कठिन क्षण था। उन्होंने अपनी टीम के साथ मिलकर शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने कहा “मैं नम्बर तीन पर आने के लिए तैयार था, यह एक अलग अनुभव था, नीशम और गुप्टिल दोनों ने अच्छा काम किया, जोफ्रा आर्चर एक उल्लेखनीय गेंदबाज हैं, फाइनल के बाद हमारी भावनाएं बहुत अधिक जुड़ी थीं।”

विलियम्सन (Kane Williamson)ने कहा “यह समय हमारे लिए काफी कठिन था। टीम के खिलाड़ी काफी इमोशनल थे और इस हार ने हम सबको तोड़ दिया था।”

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *