नस्लभेद के कारण इस खिलाड़ी को छोड़ना पड़ा था क्रिकेट

By | 11/06/2020

नस्लभेद (Racism) ने आज तक ना जाने कितनी ही जानें ली हैं और ना जाने कितने ही लोगों को अपने ऊपर सवाल उठाने पर मजबूर कर दिया है। क्रिकेट जगत की हस्तियां भी इससे अछूती भी रही हैं। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर माइकल कारबेरी (Michael Carberry) ने बताया है कि किस प्रकार नस्लभेद कि वजह से वे एक कोच से उलझ गए थे और क्रिकेट से उस वक़्त हाथ धो बैठे थे।

माइकल (Michael Carberry) इंग्लैंड के लिए 6 टेस्ट खेल चुके हैं। इसके अलावा वे घरेलू क्रिकेट में भी काफी सक्रिय रहे हैं। एक पॉडकास्ट को अपनी बात बताते हुए उनका कहना है कि “नस्लभेद (Racism) को क्रिकेट में संभालना बहुत मुश्किल हो जाता है। और जो लोग ऐसी चीजों पर हंसते हैं, वे चापलूस प्रवृत्ति के होते हैं और नहीं चाहते कि उनके क्रिकेट कैरियर पर कोई आंच आए।”

अपनी बात को है रखते हुए उन्होंने कहा है कि क्रिकेट में नस्लभेद (Racism) बुरी तरीके से घुसा हुआ है और यहां के दिग्गजों के लिए काले लोग मायने नहीं रखते।उन्होंने उस भेदभाव के खिलाफ कई बार आवाज उठाई है। उन्होंने बताया है कि कैसे एक बार उन्होंने एक कोच को बालकनी में लटका दिया था।

क्रिकेट क्लब का नाम ना लेते हुए उन्होंने उस घटना का जिक्र किया है जब उनको कोच ने “मैं तुम्हें अंधेरे में नहीं देख सकता” जैसे व्यंग्य कैसे थे। इसके बाद माइकल ने उस कोच को बालकनी में घसीटते हुए पूछा था कि “तुम कितने काले लोगों के बीच रहे हो?” और इस के बाद उस कोच को हवा में लटका दिया था।

इस घटना ने उन्हें कभी आगे नहीं बढ़ने दिया और इसके बाद उनका कैरियर ख़तम था ये वह जानते थे। उनका कहना है कि – “ऐसी चीजें आपकी क्रिकेट में सुनने को मिलेंगी ही अगर आप अलग नस्ल के हैं। ‘एंग्री ब्लैक मैन’ का मुझे टैग दे दिया गया था। यह सुन सुन कर मैं थक चुका था और यही कारण रहे कि मुझे रिटायरमेंट लेना पड़ा। नस्लभेद (Racism) ने मुझे क्रिकेट से अलग कर दिया”

आवाज उठाने के बाद जो अंजाम हुआ माइकल (Michael Carberry) का इससे भी क्रिकेट जगत में कोई प्रभाव नहीं पड़ा और नस्लभेद आज भी होता रहता है। वेस्ट इंडीज के कप्तान जेसन होल्डर (Jason Holder) का मानना है कि इन विरोधों से समाज में बदलाव आएंगे जरूर और आने वाला समय हमें नस्लभेद (Racism) में नहीं धकेलेगा।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमेंफेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्रामपर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *