मिस्बाह के लिए सिरदर्द बना अपना ही बोर्ड, इस व्यवस्था को लेकर जताई चिंता !

By | 02/06/2020

कोरोना महामारी के ब्रेक के बाद क्रिकेट को दोबारा कैसे शुरू करना है यह सभी बोर्डों के लिए एक चिंता का विषय बना हुआ। यही चिंता पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच (Pakistan Cricket Team Head Coach) और चयनकर्ता मिस्बाह-उल-हक (Misbah-Ul-Haq) को सता रही है।

दरअसल मिस्बाह खिलाड़ियों के ट्रेनिंग सत्र की शुरुआत और उसकी व्यवस्था को लेकर चिंता में हैं। चिंता का विषय है बोर्ड द्वारा कोई उचित कदम नहीं उठा पाना। आपको बता दें कि जल्द ही पाकिस्तान को इंग्लैंड के दौरे पर जाना है। जिसके लिए खिलाड़ियों को ट्रेनिंग भी करनी होगी। खिलाड़ियों की ट्रेनिंग व्यवस्था को लेकर ही मिस्बाह चिंतित हैं।

मिस्बाह के अनुसार खिलाड़ियों का ट्रेनिंग शिविर जल्द से जल्द शुरू हो जाना चाहिए। लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ऐसा शीघ्र नहीं कर पा रहा है। बोर्ड के एक सूत्र की मानें तो बोर्ड की योजना 30 से 35 खिलाड़ियों को शिविर के लिए आमंत्रित करने की थी, जिसमें से 25 खिलाड़ियों को जुलाई/अगस्त में होने वाले संभावित इंग्लैंड दौरे के लिए चुना जाता । पाकिस्तान को इंग्लैंड के खिलाफ आगामी दौरे पर तीन टेस्ट और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने हैं।

सूत्र ने यह भी बताया कि, “बोर्ड के लिए शिविर के आयोजन की व्यवस्था कर पाना सिरदर्द बना हुआ है। वो इसलिए है क्योंकि लाहौर स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में 30 से अधिक खिलाड़ियों के अलावा अधिकारियों को ठहराने का उचित इंतजाम नहीं है।”

सूत्र ने यह भी कहा कि ऐसे में मिस्बाह और बोर्ड दोनों सहमत हैं कि इस दौरान खिलाड़ी अकादमी की सभी सुविधाओं का इस्तेमाल करेंगे। और इस दौरान कोई भी खिलाड़ी अपने घर ना जाकर अकादमी में ही ठहरेंगे।

पाकिस्तानी कोच और चयनकर्ता मिस्बाह ने खिलाड़ियों को यह भी स्पष्ट संकेत दे दिए हैं कि एक बार अकादमी में आने के बाद से दोबारा कहीं और नहीं जा सकते हैं। इंग्लैंड के दौरे पर जाने तक उनको अकादमी में ही रहना होगा।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *