इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने ICC के नियमों के खिलाफ जताई नाराजगी

By | 10/07/2020

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन (Nasir Hussain) का मानना है कि, ICC को खराब रोशनी से संबंधित अपने नियमों में बदलाव करने की जरूरत है। क्योंकि इसकी वजह से कई टेस्ट मैच प्रभावित हुए हैं।

टेस्ट क्रिकेट में बैड लाइट को लेकर कई बार सवाल खड़े किये जा चुके हैं। इसे लेकर कोई स्पष्ट नियम नहीं है। जिसकी वजह से कई मैचों का फैसला प्रभावित होता रहा है। हाल ही में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट के शुरुआती दिन के खेल को महज 17.4 ओवर खेलने के बाद खराब रोशनी और बारिश के कारण रद्द कर दिया था।

ICC इसका फैसला पूरी तरह से अंपायरों पर छोड़ता है, जो मिलकर यह फैसला करते हैं कि खराब रोशनी के कारण आगे का खेल हो सकता है या नही। अंपायर के निर्णय पर ही यह निर्भर होता है कि आगे का खेल खेलने उचित होगा या अनुचित।

हुसैन ने स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट पर कहा कि, ‘यह एक ऐसी चीज है जिसकी आपको कोशिश करनी होगी और इस खेल में नए व्यक्ति को समझानी होगी। आप इतना सारा धन लाइट में खर्च करते हो, लाइट को चलाइए। इस मौके पर उन्होंने बारिश की वजह से ऐसा किया। यह ऐसी चीज है जिसे मैं चाहूंगा कि आईसीसी इसमें बदलाव करे। उन्होंने कहा कि वे भले ही कह सकते हैं कि ‘आप संन्यास ले चुके हो’ और आंकड़ों की बात करते हो, लेकिन देखिए, लाइट अभी जली हुई हैं।

पिछले साल जनवरी में MCG के मैदान पर भारत और आस्ट्रेलिया के बीच मैच के दौरान अंपायरों ने खराब रोशनी के कारण चौथे दिन का खेल रोक दिया था। तब भी इन नियमों पर सवाल उठाये गये थे।

यह भी पढ़े:मेरे कारण गांगुली ने दी थी कप्तानी छोड़ने की धमकी: युवराज सिंह

एशेज सीरीज 2013 में 227 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड को 24 गेंद में 21 रन की जरूरत थी और उसके पांच विकेट बाकी थे। लेकिन अंपायरों ने खराब रोशनी के कारण मैच रोक दिया था। अंपायर के इस निर्णय के बाद भी ICC के इन नियमों पर सवाल उठाए गए थे।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *