ऋषभ पंत को पार्थिव की सलाह, सुझावों से बचो और खेल पर फोकस करो

भारतीय विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने ऋषभ पंत को सुझावों से दूर रहकर अपने खेल पर फोकस करने की सलाह दी है। ऋषभ पंत को महेंद्र सिंह धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में माना जा रहा है। ऐसे में भारतीय टीम प्रबंधन उन्हें विशेष सुविधाएं भी दे रही हैं।

गुरुवार को पार्थिव पटेल ने कहा, “आज के युवाओं को बड़े खिलाड़ियों के साथ खेलने और ड्रेसिंग रूम साझा करने का मौका मिलता है। लेकिन जब आप खराब फार्म में होते हैं तो सभी ओर से सलाह मिलने लगती है। इनसे परे रहकर अपने खेल पर फोकस करना जरूरी है।”

उन्होंने आगे कहा, “भारत के लिए खेलते समय काफी दबाव होता है। अलग अलग हालात में हर खिलाड़ी पर दबाव होता है। ऐसे दबाव के हालात में ही आपका हुनर निखरता है। वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में वह अच्छा खेला। वह मैदान पर भी पूरा मजा लेता है। ऐसे दबाव के हालात से निकलकर वह बेहतर खिलाड़ी बनेगा।”

ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि, “टीम इंडिया के लिए आप खेल रहे हैं तो आप में कुछ तो होगा। उसने इंग्लैंड जैसी कठिन जगह पर टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया जहां गेंद बहुत स्विंग लेती है। वह युवा खिलाड़ी है और एक दो पारियों में उसका आत्मविश्वास लौट आएगा।”

ऋद्धिमान साहा को बताया सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर:

Wriddhiman Saha

उन्होंने ऋद्धिमान साहा को टेस्ट क्रिकेट का सर्वश्रेष्ठ भारतीय विकेटकीपर को बताया। उन्होंने कहा, “वह जिस तरह से कैच लपकता है और मैदान पर ऊर्जा लेकर आता है, इसमें कोई शक नहीं कि वह दुनिया का नंबर एक विकेटकीपर है। उसे पता है कि उसके लिए क्या अच्छा है।”

गौरतलब हो कि पार्थिव पटेल ने 17 वर्ष 135 दिन की उम्र में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। वे उस समय टेस्ट डेब्यू करने वाले सबसे युवा विकेटकीपर बने थे। ऋषभ पंत की उम्र अभी 22 साल है, वे भी आगे भारतीय क्रिकेट में विकेटकीपर के रूप में बेहतर योगदान दे सकते हैं।

Hindi Cricket NewsIPL 2020 News in HindiU19 World Cup NewsDream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की प्रमुख खबरों के लिए हमारे साथ जुड़े रहें। हमें फेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *