मैच फिक्सिंग को अपराध का दर्जा देने के प्रस्ताव को पीएम इमरान की मंजूरी

By | 18/06/2020

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने हाल ही में मैच फिक्सिंग को अपराध के दर्जे में रखने की मंजूरी दे दी है। इमरान खान (Imran Khan) ने पीसीबी चेयरमैन एहसान मनी (Ehsan Mani) के साथ मुलाकात के बाद स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) और मैच फिक्सिंग (Match Fixing) को लेकर कानून बनाने पर सहमति जताई थी। इस दौरान एहसान मनी ने कहा था कि यह कानून बन जाने से खिलाड़ियों के भीतर डर बैठेगा और उन्हें सजा भी दिलाई जा सकेगी।

इमरान खान ने कहा है कि PCB पहले इस कानून से जुड़े सभी पक्षों से बातचीत करके मसौदा तैयार कर ले, जिसे संसद में मंजूरी दी जा सके। संसद से पास होने के बाद यह कानून बन जायेगा। इस कानून में बैन के अलावा जेल जाने का भी प्रावधान है।

गौरतलब है कि इससे पहले PCB अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) की ही गाइडलाइन्स का पालन करता था। इसके बावजूद भी पाकिस्तान में स्पॉट फिक्सिंग में लगाम नहीं लग पाती थी। बता दे कि कुछ दिन पहले पाकिस्तान के दो पूर्व क्रिकेटरों ज़हीर अब्बास (Zaheer Abbas) और रमीज रजा (Rameez Raza) ने PCB से मांग की थी कि मैच फिक्सिंग में संलिप्त खिलाड़ियों को जेल भेजने का प्रावधान होना चाहिए।

यह भी पढ़े:सौरव गांगुली ने कहा- “इन खिलाड़ियों ने मेरी शानदार विरासत छोड़ने में मदद की”

पिछले कुछ समय से पाकिस्तानी क्रिकेटरों का नाम स्पॉट फिक्सिंग में आता रहा है। पिछले दिनों उमर अकमल (Umar Akmal) को पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान ‘सस्पेक्टेड बुकीज’ ने संपर्क किया था, जिसके बाद जांच पर सहयोग न देने पर PCB ने इन्हें 3 साल के लिए बैन कर दिया था। इससे पहले सलमान बट्ट, मोहम्मद आसिफ, मोहम्मद आमिर जैसे खिलाड़ी भी इसमें स्पॉट फिक्सिंग में शामिल रहे हैं।

सूत्रों के अनुसार एहसान मनी (Ehsan Mani) इंग्लैंड दौरे की अनुमति लेने के लिए इमरान खान(Imran Khan) से मुलाकात करने गए थे, इसी दौरान उन्होंने इस नए कानून को भी पास करने की अनुमति दे दी। 

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *