इस दिग्गज की वजह से जसप्रीत बुमराह ने किया था पहली बार टेस्ट में डेब्यू

By | 25/06/2020

भारतीय टीम (Indian cricket Team) के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के डेब्यू करियर को लेकर भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat Arun) ने बड़ा खुलासा किया है। अपने छोटे से करियर में शानदार गेंदबाजी से उन्होंने टीम में अपना मोर्चा मनवाया है। बुमराह ने 2016 में वनडे और टी-20 में डेब्यू किया था। इन दोनों फॉर्मेट में उन्होंने बड़ी जल्दी अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया लेकिन टेस्ट में डेब्यू करने में उनको काफी समय लगा। इसी टेस्ट डेब्यू को लेकर अब गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat Arun) ने बड़ा खुलासा किया है।

बुमराह को टेस्ट टीम में लाने वाले रवि शास्त्री थे…

गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat arun) ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) को टेस्ट क्रिकेट में लाने के पीछे उनका हाथ नहीं था बल्कि बुमराह को रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने चुना था। उन्होंने कहा “ये सही नहीं होगा कि अगर मैं कहूंगा कि हां मैंने जसप्रीत बुमराह को टेस्ट क्रिकेट के लिए चुना। सच्चाई ये है कि रवि शास्त्री को लगा कि जसप्रीत बुमराह साउथ अफ्रीका में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।”

यह भी पढ़ें: केएल राहुल ने किया खुलासा- “IPL में गेल ने दी थी राशिद को खत्म करने की धमकी”

उन्होंने कहा “रवि शास्त्री के कहने के बाद मैंने बुमराह से बात की और उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट खेलना उनका सपना है। इस तरह हमने जसप्रीत बुमराह को टेस्ट क्रिकेट में मौका दिया।”

भरत अरुण (Bharat Arun) ने कहा कि “जसप्रीत बुमराह को टेस्ट टीम में चुनने का श्रेय रवि शास्त्री को जाता है। वे बुमराह को टेस्ट टीम में देखना चाहते थे।”

बुमराह का एक्शन उनकी ताकत है…

गौरतलब है कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) अपने क्रिकेट करियर के शुरूआत से ही अपने एक्शन को लेकर सुर्खियों में रहे है। उनके गेंदबाजी एक्शन से उन्हें पिक कर पाना किसी भी बल्लेबाज के लिए काफी मुश्किल होता है। कई बार उनको इसी एक्शन के लिए सचेत भी किया गया है कि आने वाले समय में ये उनके सफल करियर में बाधा बन सकती है लेकिन इसके बाद भी उन्होंने अपना खेल नहीं बदला।

बुमराह के एक्शन की तारीफ करते हुए भरत अरुण ने कहा “उनका एक्शन बहुत ही अजीबोगरीब है, दुनिया के सभी बल्लेबाजों को अबतक उनके एक्शन से परेशानी आई हुई है। उनका एक्शन पारंपरिक नहीं हैं, लेकिन यह बात उन्हें फायद ही पहुंचाती है, क्योंकि बल्लेबाज उनके एक्शन से कभी भी सहज महसूस नहीं कर पाता है।”

आपको बता दें कि भारत के इस तेंदबाज ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने अब तक 14 टेस्ट मैच में 20.33 की औसत से 68 विकेट लिए हैं।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *