दाक्षिण अफ्रीका के दिग्गज ऑलराउंडर वर्नन फिलैंडर ने लिया संन्यास

दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज ऑलराउंडर वर्नन फिलैंडर ने सोमवार को अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज से पहले ही इसकी घोषणा की थी। वर्नन फिलैंडर ने 2011 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था।

हालांकि फिलैंडर के लिए उनका अंतिम मैच लकी साबित नही हुआ। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में उनकी टीम को हार का सामना भी करना पड़ा और उनकी टीम के ऊपर धीमी ओवर गति के कारण जुर्माना लगाया गया।

इसके अलावा आईसीसी ने टेस्ट चैंपियनशिप में भी उनकी टीम के अंक काट लिए। इतना ही नहीं जोस बटलर के आउट होने के बाद अपशब्द कहने के लिए फिलैंडर के मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया।

फिलैंडर ने 64  टेस्ट मैचों में 224 विकेट लिए जिसमें उन्होंने 13 बार पांच या उससे अधिक विकेट हासिल किए। बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने उन्होंने 24 के लगभग की औसत से 1779 रन भी बनाए।

वहीं 30 वनडे मैचों में उन्होंने 12.6 के औसत से 151 रन बनाने के अलावा 41 विकेट लिए हैं। उन्होंने 2007 में वनडे क्रिकेट से इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया। उन्होंने दाक्षिण अफ्रीका की ओर से सात टी20 मैच भी खेले हैं, जिसमें उन्होंने चार विकेट लिए हैं।

वहीं 168 फर्स्ट क्‍लास मैचों में उन्होंने 4941 रन बनाने के अलावा 580 विकेट लिए हैं। फिलेंडर फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 24 बार पांच विकेट के क्लब में और दो बार 10 विकेट के क्लब में शामिल हुए हैं। 

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले ही उन्होंने यह घोषणा कर दी थी कि ये उनकी आखिरी सीरीज होगी। फिर भी सीरीज के आखिरी मैच में वो चोटिल हो गए। मैच के दूसरे पारी में वो सिर्फ 1.3 ओवर ही फेंक पाए। फ़िलेंडर दाक्षिण अफ्रीका के तरफ से सबसे अधिक विकेट लेने वाले 7वें खिलाड़ी बने।

 

Category: Latest Cricket News Tags:

About दीनदयाल मौर्य

दीनदयाल मौर्य (Deendayal Maurya) CRICKHABARI.COM के मुख्य संपादक के रूप में कार्यरत हैं। वे साल 2017 से खेल पत्रकारिता की दुनिया में सक्रिय हैं। उन्हें क्रिकेट मैचों का विश्लेषण करने का अच्छा अनुभव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *