जब भारतीय टीम ने ब्रायन लारा को आउट करने के लिए बनायी रणनीति

By | 18/06/2020

भारत के पूर्व कप्तान को सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को अक्सर सर्वश्रेष्ठ भारतीय कप्तान कहा जाता रहा है। क्योंकि उनके नेतृत्व में ही भारत ने अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की और आने वाली टीमों और खिलाड़ियों के लिए विदेशों में टेस्ट जीतने का खाका तैयार किया।

वर्ष 2002 भारतीय टीम के लिए एक सफल दौर रहा था क्योंकि उन्होंने नेटवेस्ट ट्रॉफी जीती थी, चैंपियंस ट्रॉफी के संयुक्त विजेता थे और इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला ड्रॉ की थी। भारत ने इसके बाद उस वर्ष कैरेबियाई दौरा भी किया, लेकिन दुर्भाग्य से उसे इस श्रृंखला में 2-1 से हार मिली। उस दौरे पर भारतीयों के लिए सबसे बड़े सिरदर्द वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा (Brian Lara) थे।

दीप दासगुप्ता (Deep Das Gupta) ने गौरव कपूर (Gaurav Kapoor) के साथ एक चैट शो के दौरान उस श्रृंखला की एक मजेदार घटना के बारे में बताया कि कैसे भारतीय टीम ने लारा को आउट करने की योजना बनाई थी। उन्होंने कहा कि टीम की बैठक में यह स्पष्ट कर दिया गया था कि जब लारा क्रीज पर रहे तो कोई भी उनसे बात नहीं करेगा, ऐसे में वह बोर हो जाएगा और आउट हो जाएगा।

यह भी पढ़ें: सौरव गांगुली ने कहा- “इन खिलाड़ियों ने मेरी शानदार विरासत छोड़ने में मदद की”

गौरव कपूर के शो ’22 यार्न्स’ में दीप ने कहा, ”मीटिंग में हमें  बताया गया कि ब्रायन लारा से बिल्कुल बात नहीं करनी है। यदि वह बोर हो जाते हैं तो वह आउट हो जाएंगे। जब भी स्पिनर गेंदबाजी करते, मैं विकेट के पीछे होता और राहुल द्रविड़ स्लिप में। लारा एक गेंद खेलते, फिर वह मुझसे और राहुल द्रविड़ से बात करने के लिए पीछे देखते। वह बात करना चाहते थे और हम ऐसा नहीं होने देना चाहते थे।”

दीप ने कहा कि खिलाड़ियों से बात करने से उन्हें अच्छी लय मिलती, इसीलिए इस योजना को तैयार किया गया। उन्होंने आगे कहा, “वह सिर्फ बात करना चाहते थे, वो जिस तरह के बल्लेबाज थे वह अपनी बल्लेबाजी के बारे में बात करना पसंद करेंगे, वह हर चीज के बारे में बात करना चाहेंगे।”

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए CRICKHABARI के टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुक, ट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *