जब सचिन ने सौरव गांगुली को दी थी क्रिकेट करियर खत्म करने की धमकी

By | 06/06/2020

यूँ तो क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को आपने गुस्सा करते हुए बेहद कम देखा होगा। लेकिन एक बार सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने उनका गुस्सा झेला था। यह किस्सा तब का है जब सचिन तेंदुलकर को भारतीय टीम की कप्तानी सौंपी गई थी और दादा को गुस्से की भारी कीमत चुकानी पड़ी थी।

दरअसल यह बात 1997 की है, जब बार्बाडोज के ब्रिजटाउन में भारत और वेस्टइंडीज (West Indies) के बीच खेले गए 5 मैचों की सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में भारत को शर्मनाक हार मिली थी। उस टेस्ट मैच में भारत जीत हासिल करने के लिए 120 रन बनाने थे। लेकिन इतने कम रनों का लक्ष्य होने के बावजूद भारतीय टीम मात्र 81 रन बना सकी और 38 रन से यह मैच हार गई। इस हार से सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को बेहद निराशा हुई।

इस दौरान एक वाकया और हुआ था। चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद जब सचिन पूरी टीम सहित बार्बाडोज के एक रेस्तरां में नाश्ता करने गए थे तो एक कैरिबियाई ने बोला था कि भारत 120 रनों के लक्ष्य को चेज नहीं कर पाएगा और वेस्टइंडीज यह मैच जीतेगी। इस पर सचिन ने कहा,”आप शैम्पेन की बोतल पहले से मंगाकर रख लीजिए, हम कल जल्दी मैच खत्म करके यहीं जीत का जश्न मनाएंगे।”

लेकिन अगले ही दिन कुछ ऐसा हुआ जिसको देखकर पूरा क्रिकेट जगत आश्चर्यचकित था। वीवीएस लक्ष्मण, नवजोत सिद्धू, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, मोहम्मद अजहरुद्दीन जैसे दिग्गज खिलाड़ियों से सजी टीम 35.5 ओवरों में 81 रन बनाकर आलआउट हो गई। इस पर सचिन बेहद निराश थे और खिलाड़ियों पर खूब भड़क गए थे। उस मैच में वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ही अकेले ऐसे खिलाड़ी थे जो 10 से ऊपर (19) रन बना पाए थे।

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने कप्तान के तौर पर 98 मैच खेले थे। लेकिन यह उनका दुर्भाग्य था कि उन्हें सिर्फ 27 में ही जीत मिल पाई थी। टीम 52 मैचों में हार गई थी। इस दौरान सचिन को काफी निराशा हाथ लगी।

मैच के बाद गांगुली (Sourav Ganguly) जो अभी टीम में नए ही आए थे, सचिन के कमरे में गए।‌ थोड़ी बातचीत होने के बाद सचिन ने उनसे अगली सुबह दौड़ने आने के लिए कहा था लेकिन जब सुबह सचिन ने देखा तो सौरव गांगुली वहां दौड़ने नहीं गए थे। कप्तान सचिन इस बात से बेहद नाराज हुए थे।

सचिन तेंदुलकर का गुस्सा इस कदर तेज था कि उन्होंने गांगुली (Sourav Ganguly) को वापस फ्लाइट से इंडिया भेजने तक के लिए कह दिया। उन्होंने यह तक कहा था कि मैं तुम्हारा क्रिकेट करियर खत्म कर दूंगा। सचिन को इस प्रकार गुस्से में देख गांगुली को अपनी गलती का एहसास हुआ था। उस दिन के बाद गांगुली कभी सचिन को नाराज नहीं करते। उन्होंने निश्चय किया था कि वह आगे कभी भी सचिन को गुस्सा नहीं दिलाएंगे।

Hindi Cricket News, Dream 11 Prediction और मैच रिजल्ट्स की खबरों के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल को ज्वॉइन करें। हमें फेसबुकट्विटर, Pinterest, और इंस्टाग्रामपर फॉलो करें और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *